सर्वजन वशीकरण टोटके

निम्नलिखित सर्वजन वशीकरण मंत्र और टोटके बहुत ही प्रभावशाली माने गए हैं और करने में भी आसन हैं l सर्वजन वशीकरण हेतु आप बाबा जी से संपर्क करके विशेष अनुष्ठान भी करवा सकते हैं l

  • सफ़ेद दूर्वा तथा हरताल को पुष्य नक्षत्र में निमंत्रित करके लायें तथा धुप – दीप दिखाकर, बालीक पीसकर लेप बना लें l इसका तिलक लगाने वाला समस्त जग को मोहित कर लेता है l
  • तुलसी के बीजों को लेकर सहदेई के रस में पीसकर तिलक करने से जो भी देखता है, वह प्रयोक्ता के वश में हो जाता है l
  • केसर, सिन्दूर, गोरोचन को आंवले में पीसकर तिलक लगाने से देखने वाले वशीभूत होते हैं l
  • कपूर तथा मैनसिल लेकर केले के रस में पीसकर मंत्रभिसिक्त करके तिलक लगाने से साधक को जो भी देखता है, वह वशीभूत हो जाता है l
  • गुग्गुल, आग तथा उतना ही नीलकमल बनाएं l उसकी सारे शरीर में धूनी दें तो राज सभा में जाते ही सब मोहित हो जाते हैं l
  • ज्येष्ठ नक्षत्र में जामुन की जड़ लाकर पास रखने पर राज्य सामान प्राप्त होता है l
  • तुलसी के बीज का चूर्ण , सहदेई की जड़ के रस में रविवार के दिन घिसकर तिलक करने पर वशीकरण होता है l
  • सफ़ेद डूब और बर्की हरताल को पीसकर तिलक करने से जग मोहित हो जाता है l
  • गूलर के फूल की बत्ती बनाकर, रात्रि को सफ़ेद मक्खन से जलाएं और उसका काजल पार कर तिलक करने से जग मोहित हो जाता है l
  • सफ़ेद घुंघुची के रस में भाह्म्दंदी की जड़ को पीसकर शरीर पर लेप करें तो सब मोहित हो जाते हैं l
  • छाया में सहदेवी को सुखा लें, फिर उसके चूर्ण को पान में खिलाने से खाने वाला वश में हो जाता है l
  • जो अपने मस्तक पर गूलर की जड़ को घिसकर तिलक लगाता है l वह सको परे लगया है l
  • पान में औदुम्बर की जड़ रखकर, जिसे खिला दें वही वश में हो जाता है l
  • सहदेवी के रस में तुलसी के बीजों का चूर्ण घोटकर, रविवार के दिन तिलक लगाने से साधक जगत को मोहित करता है l
  • कदली के रस में बरकी हरताल और सगंध को गोरोचन के साथ पीसकर तिलक करने से लोग मोहित हो जाते हैं l
  • काकड़ा, सिंगी, चन्दन, वाच, कूट इन पांचो को पीसकर अपने मुख और वस्त्रों को धुप देने से सभी मोहित हो जाते हैं l
  • आम की जड़ को घिसकर उसका तिलक करने से जग मोहित हो जाता है
  • सिन्दूर, सफ़ेद वाच को पान के रस में पीसकर तिलक लगाने से सब लोग मोहित हो जाते हैं l
  • मंत्र द्वारा अगर थूहर के बांदा को सिद्ध करके धारण किया जाये तो साधक को वाक्सिद्धि की प्राप्ति होती है l उसकी वाणी में प्रभाव आ जाता है l
  • सिन्दूर, कुमकुम, गोरोचन तीनो को आंवले के रस में मिलाकर तिलक करने वाला संसार को मोहित कर लेता है l
  • तुलसी का बीज सहदेई के रस में मिलकर सिद्ध करे तथा रविवार को जो इसका तिलक लगाता है, वह संसार को मोहित करता है l
  • मैनसिल, कपूर को पीसकर केले के रस में मिलाकर तिलक लगाएं तो वह सारे संसार को मोहित कर सकता है l यह रावन कृत वशीकरण योग है l
  • शनिवार को धनिष्ठा नक्षत्र के समय, बबूल की जड़ लाकर उसका चूर्ण तैयार करें l इसे कपडछन भी कर लें l चूर्ण को सिद्ध किये जाने के पश्चात उसे जिसके सर पर छिड़क दिया जाये वाही वशीभूत हो जायेगा l
  • सफ़ेद आक की जड़ को छाया में सुखाकर कपिला गौ के दूध में मिलाकर शारीर पर उसका लेप करने से हर कोई वश में हो जाता है l
  • केसर, गोरोचन का तिलक बनाकर मस्तक पर लगाएं तो साक्षात् अरुंधती सामान पतिव्रता स्त्री भी वशीभूत हो जाती है l
  • हाथ-पाँव के नाख़ून को भस्म बनाकर, पान में मिलाकर रविवार को खिला दें तो अद्भुद वशीकरण होता है l
  • आदर नक्षत्र में नदी में घुसकर एक डुबकी लगाकर, थोड़ी सी रेत निकाल लाएं l उसको जिसके मस्तक पर डाला जायेगा वह वशीभूत हो जायेगा l
  • सफ़ेद सरसों, तुलसी, धतुरा, ओंगा और तिल का तेल इन सबको एकत्र करके खूब महीन पीसकर जो स्त्री अपने शरील पर लेप करती है उसका पति या प्रेमी वश में हो जाता है l
  • चन्दन और बरगद की जड़ को पानी में पीसकर और बराबर मात्र में भस्म मिलाकर मस्तक पर तिलक लगाने से देखने वाले लोग वशीभूत हो जाते हैं l
  • भोजपत्र के ऊपर लाल चन्दन से शत्रु का नाम लिखकर शहद में डुबो देने से शत्रु वशीभूत हो जाता है l
  • देसी पान और श्यामा तुलसी के पत्र को कपिला गौ के दूध में मिलाकर मस्तक दे आगरा भाग पर तिलक लगाने से सब लोग वश में हो जाते हैं l
  • पूर्व फाल्गुनी नक्षत्र में अनार तोड़ लाएं l उसे अनाल को धुप देकर अपनी दाई भुजा में बांधकर जाएं तो प्रत्येक व्यक्ति जो आपके सामने आयेगा वशीभूत हो जायेगा l
  • अमावस्या की रात्रि को ऐसा प्रयोग करने वाला व्यक्ति एक मिटटी की कच्ची हंडिया मांगे और उसके भीतर सूजी का हलवा रख दे l इसके साथ ही उस पात्र में एक साबुत हल्दी का टुकड़ा, सात लवंग तथा सात काली मिर्च रख दे और फिर उस हंडिया पर लाल कपडा बाँध दें और घर से कहीं दूर या घर के बाहर वह हंडिया धरती में गाड़ दें और वापस आकर हाथ-पैर धो लें l ऐसा करने से प्रभाल वशीकरण होता है l
  • बड के पेड़ की जड़ को पानी में घिसकर तिलक लगाने से बहुत ही प्रभावकारी सर्वजन वशीकरण होता है l

 

-: अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें  :-

बाबा त्रिलोकीनाथ जी (बगलामुखी साधक ज्योतिषी)

संपर्क संख्या - 09643933763 (भारत से), +91-9643933763 (भारत के बाहर से)

आप बाबा जी से Whatsapp पर भी संपर्क कर सकते हैं 

-:  For Consultation, Contact Baba Trilokinath Ji  :-

Baba Trilokinath Ji (Baglamukhi Sadhak Astrologer and Vashikaran Specialist)

Contact by call or Whatsapp on : +91-9643933763